ये बातें हैं कमजोर शुक्र की निशानी, आदतें भी ग्रह को करती हैं दुर्बल


ज्योतिष में शुक्र ग्रह (Venus) को सौंदर्य, भोग विलास, सुखी जीवन, कला, शोहरत, संपन्नता आदि का कारक ग्रह माना गया है. जिसकी कुंडली (Kundali) में शुक्र मजबूत होता है, उसका जीवन सुखी होता है, वह यश प्राप्त करता है. जीवन में हर प्रकार के सुख भोग करता है. जिसका शुक्र कमजोर होता है, उसे दांपत्य जीवन, कर्म क्षेत्र और आर्थिक स्तर पर परेशानियों का सामना करना होता है. शुक्र ग्रह कुंडली में स्थिति के अनुसार कमजोर और प्रबल होता है. कई बार खराब आदतों के कारण भी शुक्र खराब हो सकता है. कमजोर शुक्र के कारण कई तरह की शारीरिक समस्याएं भी हो सकती हैं. आइए जानते हैं कि किन आदतों से शुक्र कमजोर हो सकता है और कमजोर शुक्र से कौन सी शारीरिक समस्याएं हो सकती हैं.

इन आदतों से शुक्र होता है कमजोर 1. पति और पत्नी में हमेशा झगड़ा होता है, घर में कलह की स्थिति रहती है, तो इससे शुक्र कमजोर हो सकता है.

2. गंदे एवं फटे कपड़ों का उपयोग करने और स्वयं साफ सुथरा न रहने से भी शुक्र कमजोर हो सकता है

3. घर और आसपास के वातावरण को गंदा रखना भी कमजोर शुक्र ग्रह का कारण हो सकता है.

4. आपका अव्यवस्थित बेडरुम और किचन भी कमजोर शुक्र के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं.

5. पति और पत्नी के एक दूसरे के प्रति ईमानदार न होने और शास्त्र सम्मत व्यवहार न करने से भी शुक्र खराब हो सकता है. पति पत्नी को एक दूसरे के प्रति निष्ठावान होना चाहिए.

कमजोर शुक्र की निशानी 1. त्वचा संबंधी समस्याएं हों, तो समझ लें कि आपका शुक्र कमजोर हो रहा है.

2. आंत, पैर, किडनी और अंगूठे में समस्याएं होना भी दुर्बल शुक्र की पहचान है.

3 views0 comments