मई माह में ये planet बदलेंगे अपनी चाल, क्या होगा आपकी राशि का हाल...


ग्रहों के राशि परिवर्तन का असर सभी मनुष्यों के जीवन पर पड़ता है। मई माह में भी कुछ ग्रह अपनी चाल बदलेंगे। इन ग्रहों में सूर्य, बुध और शुक्र ग्रह शामिल हैं। इस महीने बुध और शुक्र दो बार अपनी राशियां बदलेंगे। इन सभी ग्रहों की चाल का प्रभाव आप सभी के ऊपर शुभाशुभ रूप में पड़ेगा।

बुध का वृष राशि में गोचर

बुध ग्रह 1 मई को मेष राशि से वृष राशि में गोचर करेंगे। इस राशि में बुध देव 26 मई तक स्थित रहेंगे। ज्योतिष शास्त्र में बुध ग्रह को बुद्धि, वाणी, व्यापार, बैंकिंग आदि का कारक माना जाता है। वृष राशि में बुध का राशि परिवर्तन सभी राशियों को प्रभावित करेगा। लेकिन सबसे अधिक प्रभाव वृष राशि पर ही देखने को मिलेगा। बुध का गोचर आपके लिए कुछ मामलों में अच्छा साबित होगा।

मेष : खुशी,

वृष : प्रगति,

मिथुन: सम्मान,

कर्क: शुभ समाचार,

सिंह: मंगल कार्य,

कन्या: सफलता,

तुला: यश प्राप्ति,

वृश्चिक: मानसिक शांति,

धनु: सेहत में सुधार,

मकर: विजय प्राप्ति,

कुंभ: आय के स्त्रोत में वृद्धि,


मीन: सुख प्राप्ति

शुक्र का वृष राशि में गोचर समस्त भौतिक सुखों का कारक शुक्र ग्रह 4 मई को होगा। ये मेष राशि से अपनी स्वराशि वृष राशि में प्रवेश करेंगे। इस राशि में शुक्र देव 29 मई तक स्थित होंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, शुक्रदेव को लग्जरी लाइफ, मनोरंजन, फैशन, प्रेम, रोमांस आदि का कारक माना जाता है। वृष राशि के जातकों के लिए यह गोचर शानदार साबित हो सकता है।



मेष : ऐश्वर्य, वृष : प्रसन्नता, मिथुन: शुभ सूचना, कर्क: सेहत की चिंता, सिंह: स्वास्थ्य नर्म, कन्या: संतान की खुशी, तुला: करियर में प्रगति, वृश्चिक: प्रमोशन, धनु: रुके पैसे की प्राप्ति, मकर: अदालती फैसले पक्ष में , कुंभ: पुरस्कार सम्मान, मीन: आलस में वृद्धि

सूर्य का वृष राशि में गोचर समस्त ग्रहों के प्रधान सूर्य देव 14 मई 2021 को मेष राशि से वृष राशि में प्रवेश करेंगे। जहां बुध देव के साथ इनकी युति होगी। इस राशि में सूर्य देव 15 जून 2021 तक विराजमान रहेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्य देव को आत्मा, मान सम्मान, उच्च पद आदि का कारक माना गया है। वृष राशि में सूर्य का गोचर आपके दांपत्य जीवन और पार्टनरशिप को प्रभावित करेगा।


मेष : लोकप्रियता में वृद्धि, वृष : उच्च पद की प्राप्ति, मिथुन: आत्मा को कष्ट, कर्क: खुशियां दस्तक देंगी, सिंह: स्वास्थ्य में सुधार, कन्या: खुशी के समाचार, तुला: यश प्राप्ति, वृश्चिक: गौरव बढ़ सकता है, धनु: धन प्राप्ति, मकर: मनचाही सफलता, कुंभ: धन आगमन, मीन: प्रमोशन

बुध का मिथुन राशि में गोचर इसी महीने की 26 तारीख को बुधदेव एकबार फिर अपनी राशि बदलेंगे। बुद्धि और वाणी का कारक बुध वृष राशि से अपनी स्वराशि मिथुन में प्रवेश करेंगे। इस राशि में बुध देव 3 जून 2021 तक स्थित रहेंगे। इस बीच 30 मई 2021 को बुध ग्रह मिथुन राशि में ही वक्री हो जाएंगे।


मेषःआर्थिक मामलों में सफलता वृषः मन अशांत मिथुनः दांपत्य जीवन में व्यवधान


कर्क : उच्च अधिकारी या पिता का सहयोग सिंह : संतान की तरक्की होगी कन्याः रुका हुआ कार्य संपन्न


तुलाः व्यावसायिक योजना फलीभूत वृश्चिक : उपहार या सम्मान में वृद्धि धनुः रिश्तों में मजबूती

मकरः आशातीत प्रगति कुंभ: स्वास्थ्य के प्रति सावधान मीन: रचनात्मक प्रयास फलीभूत


शुक्र का मिथुन राशि में गोचर शुक्र देव मई माह में दूसरी बार राशि बदलेंगे। 29 मई को शुक्र ग्रह वृष राशि से मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे। इस राशि में ये 22 जून 2021 तक स्थित रहेंगे। शुक्र देव वैभव, कला, सौंदर्य और कामुकता के कारक हैं। मिथुन राशि में शुक्र देव के आने से सभी राशियों पर इसका शुभ-अशुभ प्रभाव पड़ेगा।


मेषःधन लाभ वृषः कार्यक्षेत्र में कुछ समस्याएं मिथुनः हर कार्य में सफलता


कर्क : भाग्य साथ देगा सिंह :प्रेम संबंधों में सफलता कन्याः धन हानि के योग


तुलाः शिक्षा के लिए उत्तम वृश्चिक :धन से जुड़ी तंगी दूर होगी धनुः मान-सम्मान प्राप्त होगा


मकरः आमदनी बढ़ेगी। कुंभ: मान-सम्मान मिलेगा मीन:यात्राओं पर जाना पड़ेगा

3 views0 comments