Search
  • Acharya Bhawana Sharma

मंगल को मजबूत करता है मूंगा, जानिए किन लोगों को पहनना चाहिए ये रत्न


मूंगा रत्न मंगल ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है और मंगल एक ऊष्ण ग्रह है। नवरत्नों में से मूंगा रत्न बेहद ही खास है। यह सामान्यतः लाल रंग में पाया जाता है। इसके अलावा मूंगा सिंदूरी, गुलाबी, सफेद, नीले और काले रंग में भी होता है। अंग्रेज़ी में इसे कोरल कहते हैं।

ज्योतिषचार्यों के अनुसार मूंगा धारण करने से मंगल ग्रह मजबूत होता है। मूंगा पहनने से व्यक्ति को असीम ऊर्जा मिलती है। अगर व्यक्ति मूंगा को विधि-विधान के साथ धारण करें तो तमाम तरह के अपयश, विपदाओं और दुर्घटनाओं आदि से मुक्ति हो सकता हैं। जानिए किन लोगों को मूंगा धारण करना चाहिए।

मेष लग्न

मंगल आठवें घर का स्वामी यानी लग्नेश और अष्टमेश है। लग्नेश को शुभ माना जाता है तथा अष्टमेश को अशुभ माना जाता है। अष्टम स्थान आयु और मृत्यु से संबंध रखता है, अतः मेष राशि वालों को मूंगा ज्योतिष से पूछकर पहन सकते हैं।

कर्क लग्न मंगल पांचवे और दसवें घर का स्वामी होता है। ये दोनों ही स्थान शुभ हैं। पंचम स्थान विद्या, संतान, गुरु, विवेक, रोमांस और निर्णय लेने की क्षमता आदि से संबंधित है तो वहीं दसवां घर पिता और करियर का है। अतः आप मूंगा पहन सकते हैं।

सिंह लग्न मंगल चौथे और नवें घर का स्वामी होता है। ये दोनों ही स्थान शुभ हैं। चौथे घर का संबंध माता, भूमि, भवन, वाहन और सुख से होता है जबकि नवां घर भाग्य का होता है। अतः आपके लिए मूंगा धारण करना फायदेमंद होगा। मूंगा पहनने से आपकी किस्मत पर काफी असर पड़ेगा।

वृश्चिक लग्न वृश्चिक लग्‍न में मंगल लग्‍नेश होता है। ये स्थान अत्यंत शुभ है, लेकिन साथ ही मंगल छठे घर का भी स्वामी है, जो कि अकारक है। अतः आप कुछ सावधानियों के साथ मूंगा धारण कर सकते हैं।


धनु लग्न मंगल बारहवें और पांचवें घर का मालिक होता है। बारहवें घर को व्यय स्थान, यानी खर्च बढ़ाने वाला स्थान कहा जाता है। अगर आप मूंगा पहनेंगे तो आपके खर्चें अधिक बढ़ जाएंगे। लेकिन पांचवे घर को अत्यंत शुभ स्थान माना जाता है। पंचम स्थान संतान, विद्या, गुरु, रोमांस और विवेक आदि से संबंध रखता है। इसलिए इस लग्न के लोग चाहे तो अच्छे परिणाम के लिए मूंगा पहन सकते हैं।

मकर लग्न मंगल ग्यारहवें और चौथे घर का स्वामी है। चौथे घर का संबंध माता, भूमि, भवन, वाहन और सुख से होता है। इसलिए मकर लग्न वाले भी मूंगा पहन सकते हैं।

कैसे धारण करें मूंगा मूंगे को तांबे या फिर सोने की अंगूठी में पहनना शुभ माना जाता है। मूंगा को लाकर सोमवार की रात को दूध और गंगाजल मिले मिश्रण में मूंगा डाल दें। फिर मंगलावर के दिन इसे साफ करके तर्जनी या फिर अनामिका अंगूली में पहन लें।

3 views0 comments

Recent Posts

See All

महाबली हनुमान जी को संकट मोचन भी कहा जाता है। हनुमान जी अपने भक्तों पर आने वाले सभी तरह की परेशानियां और भय दूर करते हैं। कहा जाता है कि हनुमान जी से बढ़कर कोई देवी-देवताएं नहीं है ये आज के समय में भी