ऐसी थी द्रौपदी की सुंदर देह, जानिए राज की 5 बातें


महाभारत में कुं‍ती पुत्र युधिष्ठिर, अर्जुन और भीम एवं माद्री पुत्र नकुल और सहदेव की पत्नी द्रौपदी थीं। राजा द्रुपद की बेटी द्रौपदी को पांचाली भी कहा जाता है। द्रौपदी दिखने में बहुत ही सुंदर थी। पांचों पांडवों ने अन्य महिलाओं से भी विवाह किया था जैसे अर्जुन से सुभद्रा से, भीम ने हिडिम्बा से। परंतु सभी भाइयों का द्रौपदी के प्रति विशेष अनुराग था और वे जीवन पर्यंत द्रौपदी का साथ देते रहे और जब स्वर्ग गए तो में मात्र द्रौपदी को ही अपने साथ ले गए। मान्यता पर आधारित आओ जानते हैं कि द्रौपदी की सुंदर देह के 5 राज।

1. कहते हैं कि द्रौपदी का जन्म एक यज्ञ से हुआ था। द्रौपदी जन्म से ही अति सुंदर और रुपमति थी। सुंदर होने के साथ ही द्रौपदी वैचारिक रूप से भी सक्षम थी।

2. द्रौपदी का मूल नाम याज्ञसेनी और दूसरा नाम कृष्णा था। द्रौपदी का नाम कृष्णा इसलिए था क्योंकि वह सांवली थीं।

3. द्रौपदी के शरीर से निरंतर मादक सुगंध निकलती रहती थी। 4. द्रौपदी की मांसपेशियां मृदु थीं परंतु क्रोध या युद्ध के समय कठोर और विस्तॄत हो जाती थीं। उनका लावण्यमय शरीर युद्ध के समय अत्यंत कठोर दिखाई देने लगता था।



5. कहते हैं कि द्रौपदी में ही वह कला थी कि वह पुन: कौमार्य प्राप्त कर लेती थीं। जब वह एक पति से दूसरे पति के साथ जाती थी तो वह ऐसा करती थीं। संभवत: इसीलिए द्रौपदी को पंचकन्या में स्थान मिला है।

2 views0 comments